भगत हलवाई के संचालक शिशिर भगत के खिलाफ मुकदमा

0
574

justabhi..भगत हलवाई के संचालक के खिलाफ दहेज मांगने का आरोप लगा है। इस मामले में थाना हरीपर्वत में मुकदमा दर्ज कराया गया है। आरोप है कि भगत हलवाई के संचालक ने शिशिर भगत ने ससुरालियों से बीस लाख रुपये दहेज मांगा है। शनिवार को उनकी पत्नी ने उनके खिलापफ हरीपर्वत थाने में मुकदमा दर्ज कराया है। उनकी पत्नी का आरोप है कि उन्होंने जान से मारने की धमकी भी दी है।

आगरा में भगत हलवाई के संचालक शिशिर भगत की पत्नी सुधा भगत ने आरोप लगाए हैं कि शादी में उनके पिता ने 15 लाख रुपये खर्च किए थे। लेकिन ससुरालीजन शादी में किए गए खर्च से खुश नहीं थे, इससे वे उन्हें परेशान करने लगे. वे बेटी को परेशान न रखें, इसके लिए उनके पिता ने बीच बीच में जरूरतों को पूरा किया। कई बार मारपीट कर घर से निकाला गया, सामाजिक दवाब और आर्थिक मदद करने के बाद घर बुला लिया।

मई में पिता के घर छोड़ दिया था
सुधा भगत ने आरोप लगाया है कि 21 मई 2017 को उनके साथ मारपीट की गई, उन्हें वे निर्भय नगर स्थित उनके पिता के घर छोड गए। कह दिया कि 20 लाख रुपये का इंतजाम नहीं कर लेते हो तब तक पिता के घर पर ही रहो। आरोप है कि उनका बेटा नोएडा के इंजीनियरिंग कॉलेज में पढ रहा है, उसकी पढाई का खर्चा भी वह नहीं दे रहे हैं। ससुरालीजनों ने यहां तक कह दिया है कि वे शिशिर भगत की दूसरी शादी कराने में भी संकोच नहीं करेंगे। इस मामले में सुधा भगत की तहरीर पर थाना हरीपर्वत में शिशिर भगत निवासी दोनेरिया अपार्टमेंट, ननद वर्षा नाटानी, नंदोई अनिल नाटानी, हेमंत अग्रवाल, क्रष्ण मुरारी भगत व दामाद सहित छह के खिलाफ 498 ए, 506, दहेज प्रतिष्ठा अधिनियम 1961 की धारा तीन और दहेज प्रतिष्ठा अधिनियम 1961 की धारा चार में थाना हरीपर्वत में मुकदमा दर्ज किया गया है।

LEAVE A REPLY